Breaking News
Home / World / Hindi News / पहाड़ी इलाकों में 8 फीट तक बर्फ की चादर, 14 जनवरी सबसे सर्द दिन हो सकता है

पहाड़ी इलाकों में 8 फीट तक बर्फ की चादर, 14 जनवरी सबसे सर्द दिन हो सकता है

पहाड़ी इलाकों में 8 फीट तक बर्फ की चादर, 14 जनवरी सबसे सर्द दिन हो सकता है


दो दशक बाद जनवरी के पहले हफ्ते में देशभर में मानसून जैसा माहौल बन गया। उत्तर के पहाड़ी राज्यों में जबरदस्त बर्फबारी हुई तो दक्षिण के राज्यों में भारी बारिश। दक्षिण में जनवरी में बारिश के 100 साल तक के रिकॉर्ड टूट गए। दरअसल पश्चिमी विक्षोभ के साथ-साथ देश के अलग-अलग हिस्सों में एक साथ कई चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनने से यह स्थिति पैदा हुई। देश के सभी ऊंचे पहाड़ी इलाकों में 5 से 8 फीट तक मोटी बर्फ की चादर लिपटी है, हालांकि हिमालयी इलाके में अब मौसम साफ हो गया है।

बारिश और बर्फबारी की गतिविधियां बंद होने के बाद अब बर्फीली हवाओं का असर समूचे उत्तर, पश्चिम, मध्य व पूर्वी राज्यों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार तक दिखेगा, सभी राज्यों में तापमान में भारी गिरावट आएगी। 14 जनवरी को उत्तर व मध्य भारत में दिनभर सर्द हवाओं के साथ सबसे ठंडा दिन रह सकता है। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड में भारी बर्फबारी हुई और उत्तर के मैदानी राज्यों में बेमौसमी भारी बारिश दर्ज हुई।

दिल्ली में 2 से 7 जनवरी के बीच 57 मिमी बारिश दर्ज हुई। दिल्ली में सामान्य रूप से इतनी बारिश जनवरी, फरवरी व मार्च में मिलाकर होती है। चंडीगढ़ व लद्दाख को छोड़कर उत्तर-पश्चिम के सभी राज्यों में सामान्य से दो-तीन गुना अधिक बारिश दर्ज हुई। गोवा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल और पश्चिमी मध्य प्रदेश के ज्यादातर जिलों में 11 जनवरी तक अच्छी बारिश दर्ज होगी।

जम्मू-कश्मीर : झाड़ू से हटानी पड़ रही रनवे पर जमी बर्फ
लेह एयरपोर्ट के एप्रन (जहां हवाई जहाज खड़े किए जाते हैं) में अत्याधुनिक मशीनों की जगह झाड़ू से बर्फ हटाई जा रही है। एयरपोर्ट डायरेक्टर मलकीत सिंह का कहना है कि सिर्फ एप्रन में ही मैनुअली बर्फ हटाने का काम किया जा रहा है। रनवे का जिम्मा वायुसेना के पास है और उनके पास बर्फ हटाने की मॉडर्न मशीनें हैं। उन्होंने कहा कि मैनुअली बर्फ हटाने से संचालन में बाधा नहीं आती है। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि एयरपोर्ट के लिए बर्फ हटाने के उपकरणों का प्रस्ताव पाइपलाइन में है, इसे अभी तक मंजूरी नहीं मिली है। मौजूदा समय में यहां हर रोज 8 फ्लाइट आ-जा रही है।

रनवे का जिम्मा वायुसेना के पास है और उनके पास बर्फ हटाने की मशीनें हैं, लेकिन मैनुअली बर्फ हटाने से संचालन में बाधा नहीं आती।

राजस्थान: ठिठुरन के साथ गलन बढ़ी
पश्चिमी विक्षोभ (वेस्टर्न डिस्टरबेंस) के चलते राजस्थान में रात का पारा भले ही सामान्य से ज्यादा हो, लेकिन ठंड से जरा भी राहत नहीं है। रात से ज्यादा दिन में सर्दी हैं। दिनभर गलन और ठिठुरन है। लगातार दूसरे दिन कई शहरों में रात और दिन का पारा लगभग बराबर रहा।

जयपुर में शनिवार शाम 5:50 बजे: घने कोहरे के के कारण रात जैसा लगने लगा।

कोटा-अजमेर में तो रात-दिन के पारे में सिर्फ 2 डिग्री आ अंतर रहा। कोटा में न्यूनतम 15.6 व अधिकतम 17.6 डिग्री, जबकि अजमेर में रात का 13.3 डिग्री और दिन का 15.0 डिग्री रहा। प्रदेश के 10 से ज्यादा स्थानों पर रात का पारा 10 डिग्री से ऊपर रहा। माउंट आबू में रात का पारा 0.5 डिग्री रहा।

श्रीगंगानगर में तापमान कम होने के चलते सुबह औस जम गई।

MP: भोपाल में दिनभर फुहारें, 9 साल का रिकॉर्ड टूटा
भोपाल समेत मध्यप्रदेश के 27 जिलों में रुक-रुककर बारिश हो रही है। राजधानी में बारिश से दिन का पारा 6.7 डिग्री लुढ़ककर 20.9 डिग्री पर पहुंच गया। यह सामान्य से 3 डिग्री कम है। वहीं, भोपाल में रात का तापमान में 9 साल पुराना रिकॉर्ड टूट गया। रात का तापमान सामान्य से 9 डिग्री ज्यादा 19.2 डिग्री दर्ज किया गया। भोपाल में इससे पहले 2012 में 1 जनवरी को रात का तापमान 18.0 डिग्री दर्ज किया गया था। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक भोपाल में रविवार दोपहर बाद मावठे (ठंड में होने वाली बारिश) से राहत मिल सकती है।

फोटो भोपाल की कोलार रोड की है। देर रात तक शहर बारिश से भीगता रहा।

पंजाब: जनवरी में मानसून जैसा हाल इस हफ्ते पड़ेगी रिकॉर्ड सर्दी
पंजाब में 13 जनवरी तक शीतलहर जारी रहेगी। रात का पारा गिरेगा। 11 से 13 जनवरी तक यलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके मायने हैं कि जिन लोगों को घर से निकलना है, वे मौसम को देखते हुए पूरी तैयारी कर निकलें। शनिवार को शीतलहर से मौसम में ठंडक रही। मौसम विभाग के अनुसार 3 दिन 10-15 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली हवा से ठिठुरन बढ़ेगी। अधिकतर हिस्सों में बादल छाए रहने के आसार हैं। 2 दिन धुंध के बाद मौसम खराब रहेगा।

पंजाब के होशियारपुर में सुबह देर तक कोहरा छाया रहा।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

लगातार हो रही बर्फबारी के कारण जम्मू कश्मीर और हिमाचल जैसे पहाड़ी इलाकों में रहने वालों का आमजीवन मुश्किल हो गया है।

Source link

Check Also

आंदोलन के बीच किसान संयुक्त किसान मोर्चा ने 100 रुपये किलो दूध को लेकर जनता को दी राहत की खबर

आंदोलन के बीच किसान संयुक्त किसान मोर्चा ने 100 रुपये किलो दूध को लेकर जनता को दी राहत की खबर

दूध को पांच दिन तक नहीं बेचने और उसके बाद 100 रुपये किलो दाम करने …